Breaking News

कैलाशसत्तावन@करौली।


ग्रीष्म काल में राहगीरों को ठंडा पानी पिलाने से बढ़कर कोई पुण्य कार्य नहीं हो सकता है भारतीय संस्कृति में आदि अनादि काल से ऐसे पुनीत कार्य होते चले आ रहे हैं। भीषण गर्मी में पक्षियों के लिए परिंडे राहगीरो के लिए शीतल पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से धर्मार्थ लोग प्याऊ लगाकर पुण्य लाभ लेते हैं ।यहां करौली केला देवी रोड पर अतेवा मे रामनिवास मीना,सुरेन्द्रकुमार शाह माइन्स मोरडा व अन्य के सहयोग से गर्मी मे शीतल पेयजल की प्याऊ लगाई गई है जिसपर दिनरात राहगीरो को  शीतल जल उपलव्ध रहेगा।प्याऊ के पास ही कई विश्राम स्थल भी है जिन पर राहगीर  विश्राम कर सकते हैं।गीता मे स्वयं भगवान श्री कृष्ण ने कहा है कि"आकुल कंठा पियतम् सलिलम् सवार्थ तीर्थ फलम पार्थः
हे अर्जुन प्यासे को जल पिलाने वाले को सभी तीर्थो का फल सहज ही प्राप्त हो जाता है। गौरतलव है कि माइंस मोरडा कि और से स्वचछता,पेयजल जैसै कार्यो मे पहले  ही सहयोग किया जाता रहा है।