Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को उत्तर प्रदेश के देवरिया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्षी पार्टियों पर जमकर हमला बोला. प्रधानमंत्री मोदी ने एक बार फिर सपा-बसपा और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक दल के गठबंधन को महामिलवाटी बताया और कांग्रेस की भी आलोचना की. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह चुनाव केवल सांसद चुनने का नहीं है, बल्कि लोगों ने देश में एक बुलंद सरकार बनाने का मन बना लिया है. प्रधानमंत्री मोदी ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "सपा-बसपा के बस में नहीं है कि वह आतंकवाद पर रोक लगा सके. ये तो गली के गुंडों को नहीं रोक सकते. 21वीं सदी में भारत का विश्व में क्या स्थान हो, उसके लिए यह चुनाव है. इसीलिए लोगों ने एक बुलंद सरकार बनाने का मन बना लिया है." नरेंद्र मोदी ने कहा, "बीते पांच साल में आपके इस सेवक ने इस कार्य संस्कृति को बदल दिया है. इन लोगों के दांव-पेंच नाकाम हो रहे हैं और ये लोग मुझे पानी पी-पीकर के कोस रहे हैं. दुनियाभर की डिक्शनरी से खोज कर लाते हैं और प्रेम का नकाब पहना कर मुझे गालियां देते हैं." उन्होंने कहा, "पहले कांग्रेस ने सीमा पर जवानों के सिर कटवाए और उसके बाद अब उप्र में वोट कटवा रही है." कांग्रेस और गठबंधन को उन्होंने आतंकवाद का समर्थन करने वाला करार दिया. उन्होंने कहा, "कांग्रेस खुलेआम कानून हटाने का दावा कर रही है. वह चाहती है कि हमारे जवान कोर्ट कचहरियों में चक्कर काटते रहे. देवरिया, पूर्वाचल देशद्रोहियों को खुली सोच देने वालों का साथ दे सकता है क्या? ऐसी सोच रखने वालों को सजा देंगे क्या? ये लोग दिल्ली में इसलिए केंद्र सरकार बनाना चाहते हैं ताकि जनता और कारोबारियों से लूट-खसोट कर सकें." मोदी ने कहा, "जातिवादी वंशवादी और भ्रष्टाचार की इच्छा रखने वालों को आप लोगों ने पांच चरणों में सबक सिखा दिया है. आज छठे चरण में भी ऐसा ही हो रहा है." उन्होंने कहा, "आपकी मजबूत सरकार ने गरीब सवर्णो के लिए 10 फीसदी आरक्षण दिया. अंतरिक्ष में मजबूती दिखाई. आतंक की लड़ाई को सीमा पार लेकर गई. घर में घुस कर मारा गया. आतंकवादियों को जब घर में घुस कर मारा गया तो आपको गर्व हुआ कि नहीं. माथा चौड़ा हुआ कि नहीं. मिठाई खाने का मन किया कि नहीं." प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "कानून बनाकर हमने भ्रष्टाचारियों का जीना मुहाल कर दिया है. संपत्ति देश में हो या विदेश में, उसे जब्त करने का कानून इस चौकीदार ने बनाया है. एक भ्रष्टाचारी हमारे देश से गरीबों का नौ हजार करोड़ लूट कर भागा था. आपके इस चौकीदार ने इससे सवा गुना ज्यादा संपत्ति जब्त कर ली. ऐसा काम करने का कलेजा सिर्फ मजबूत सरकार ही कर सकती है. मिलीभगत वाले मिलावट वाले लोग ऐसा नहीं कर सकते हैं." उन्होंने कहा, "देवरिया से मेरा एक और नाता है. मैं तब राजनीति में नहीं था. तब कलराज मिश्र जी युवा मोर्चा का काम देखते थे. वह गुजरात आए थे. बड़ा नेता क्या होता है, मैंने कलराज जी में देखा था. इन्हें देखकर राजनीति में आया. इन्होंने सिखाया. बिना बिजली के ढिबरी जलाकर रात-रात भर पढ़ा हूं. शौचालय न होने का दर्द झेला है. न पक्का घर न बैंक खाते न दवाई न इलाज. यही सब भुगत करके आज यहां पहुंचा हूं." उन्होंने कहा, "20-25 वर्ष बाद जब मैं कमजोर हो जाऊंगा तो मुझे ढूंढ़ना पड़ेगा कि कहीं कमरा मिल जाए रहने के लिए. आजकल जो लोग मुझसे सर्टिफिकेट मांग रहे हैं, उनसे कहीं कम है मेरी संपत्ति. इन लोगों ने गरीबों के साथ जिस तरह का बर्ताव किया है, भद्दा मजाक किया है, उसे देश कभी भूलेगा नहीं."