Breaking News

विश्व कप 2019 में कल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टूर्नामेंट का 14वां मैच खेला गया. इस मुकाबले में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 36 से हराया. ऑस्ट्रेलियाई टीम की टूर्नामेंट में यह पहली हार थी. इस हार के साथ ऑस्ट्रेलिया की टीम बार फिर विवादों में फंसती नजर आ रही है.दरअसल भारत के खिलाफ इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई स्पिन गेंदबाज एडम जम्पा बॉल टेंपरिंग के शक के घेरे में आ गए हैं. मैच के दौरान जाम्पा अपनी ट्राउजर की जेब से कुछ निकालकर बॉल को रगड़ते दिखाई दिए. सोशल मीडिया पर इस वायरल वीडियो को देखने के बाद अब यब सवाल उठ रहा है कि क्या जाम्पा बॉल टेंपरिंग कर रहे थे. हालांकि आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टी नहीं हुई है.आपको बता दें कि यह घटना मैच के 14वें ओवर की है जब जम्पा अपनी ट्राउजर की जेब से कुछ निकालकर गेंद पर रगड़ रहे थे. इतना ही नहीं मैच के 23वें ओवर में भी जम्पा को ऐसी ही हरकत करते हुए देखा गया.

हालांकि मैच रेफरी और आईसीसी की तरफ से इस बारे में किसी तरह को कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.कल के मैच में हुए इस घटना के बाद एक बार फिर से क्रिकेट फैंस के मन सैंडपेपर कांड की यादें जाता हो गई है. साल 2018 में केपटाउन टेस्ट के दौरान उस समय के मौजूदा कप्तान स्टीव स्मिथ, उप-कप्तान डेविड और कैमरुन बैनक्राफ्ट पर बॉल टेंपरिंग का आरोप लगा था जिसे इन तीनों खिलाड़ियों ने स्वीकार कर लिया था.इस घटना के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड ने स्टीव स्मिथ को कप्तानी से हटाने के साथ एक साल के लिए इंटरनेशल क्रिकेट से बैन कर दिया. इसके अलावा डेविड वॉर्नर को भी एक साल लिए बैन किया गया साथ उन पर आजीवन ऑस्ट्रेलिया में किसी भी डिविजन और नेशनल टीम में कप्तानी के लिए बैन कर दिया गया. वहीं इस मामले में बैनक्राफ्ट को 9 महीने के लिए इंटनेशनल क्रिकेट से बैन की सजा मिली थी.