Breaking News

आईपीएल के मौजूदा सीजन का 10वां मैच अचानक विवादों की ओर बढ़ गया है. 30 मार्च को दिल्ली कैपिटल्स (DC) और कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के बीच फिरोज शाह कोटला ग्राउंड पर रोमांचक मैच देखने को मिला. केकेआर ने उस मैच में दिल्ली कैपिटल्स को 186 रनों का बड़ा टारगेट दिया, लेकिन मुकाबला टाई हो गया. आखिरकार सुपर ओवर में दिल्ली ने बाजी मारी.

ये मुकाबला एक तरफ तो सुपर ओवर की वजह से सुर्खियों में रहा, दूसरी तरफ ऋषभ पंत का एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें वह विकेट के पीछे खड़े होकर कुछ ऐसा बोलते सुने गए, जिससे विवाद हो गया. उनकी आवाज स्टंप माइक में कैद हो गई.

सोशल मीडिया में वायरल हुए वीडियो में पंत को कहते हुए सुना जा रहा है- 'ये तो वैसे भी चौका है.' पंत ऐसा तब कहते नजर आए, जब मुकाबला चौथे ओवर में था और केकेआर के रॉबिन उथप्पा बल्लेबाजी कर रहे थे, जबकि संदीप लामिछाने गेंदबाजी. तभी संदीप की अगली गेंद पर उथप्पा ने चौका जड़ दिया, जिसके बाद सोशल मीडिया पर ये कहते हुए वीडियो शेयर किया जाने लगा कि मैच फिक्स था.

हालांकि बीसीसीआई ने इस पूरे मामले को खारिज कर दिया. उसने कहा कि ये सब गलत है. बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से कहा, 'पंत ने अपने इस वाक्य (ये तो वैसे भी चौका है) से पहले क्या कहा उसे किसी ने नहीं सुना. दरअसल, वो कप्तान श्रेयस अय्यर से ऑफ साइड पर फील्डर बढ़ाने की बात कह रहे थे, ताकि चौका बचाया जा सके.'

दूसरी तरफ आईपीएल के पूर्व प्रमुख ललित मोदी ने भी ट्वीट कर फिक्सिंग का अंदेशा जताया है. उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर ऋषभ पंत का एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें पंत कहते दिख रहे हैं कि ये तो वैसे भी चौका है. और अगली ही गेंद पर चौका लगता है.

ललित मोदी ने ट्वीट किया कि क्या ये मजाक है मैं इस पर विश्वास नहीं कर सकता. इतने बड़े लेवल पर मैच फिक्सिंग. बीसीसीआई और आईपीएल प्रशासन कब जागेंगे.