Breaking News

कर्नाटक में बाढ़ से अब तक 71 लोगों की मौत हो चुकी है. गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, एक अप्रैल 2019 से अब तक बाढ़ के कारण 71 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. इसके साथ ही बाढ़ की चपेट में आने से 3,531 लोगों के घर को नुकसान पहुंचा है और 3,148 जानवरों की मौत हो चुकी है.

कर्नाटक में जिन 71 लोगों की मौत हुई है, उसमें बिजली गिरने से 35 लोगों, घर व पेड़ गिरने से 25 लोगों और बाढ़ में बह जाने के कारण 12 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा एक शख्स की मौत भूस्खलन के कारण हुई.कर्नाटक में बाढ़ से प्रभावित 32,748 लोगों को सुरक्षित स्थानों में पहुंचाया गया है. देश के ज्यादातर हिस्सों में बाढ़ और बारिश की तबाही जारी है. इस संबंध में गृह मंत्रालय कई अहम बैठकें कर चुका है.

महाराष्ट्र और केरल में बाढ़ का कोहराम जारी है. बाढ़ के कारण अब तक महाराष्ट्र में 29 और केरल में 22 लोगों की मौत हो चुकी हैं. महाराष्ट्र के सांगली में 11, कोल्हापुर में 4, पुणे में 6, सतारा में 7 और सोलापुर में एक लोग की मौत हुई है.वहीं, केरल में 22 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 22 हजार लोग राहत शिविर में पनाह लिए हुए हैं. कर्नाटक में भी बाढ़ ने तबाही मचाई है. यहां पर अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है.

केरल में एनडीआरएफ राहत और बचाव कार्यों में लगी है. बाढ़ के कारण कोच्चि एयरपोर्ट रविवार तक बंद कर दिया गया है. महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और ओडिशा का बड़ा हिस्सा सैलाब के चलते पानी-पानी हो गया है.

कर्नाटक के बेलगाम में तीन हेलिकॉप्टर रेस्क्यू मिशन में जुटे हैं. इसके अलावा महाराष्ट्र में नौसेना तो केरल-कर्नाटक में सेना और वायुसेना को बचाव कार्यों में लगाया गया है.