Breaking News

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर लड़कियों की घटती संख्या पर चिंता जताते हैं. महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों पर नाराज़गी दिखाते हैं. कानून के रखवालों के पेंच कसते हैं. मगर, सीएम साहब के गृह जनपद करनाल में ही एक महिला के साथ निर्भया कांड जैसी वारदात को अंजाम दिया गया. उसके साथ एक नहीं दो नहीं बल्कि आठ-आठ लोगों ने मिलकर हवस का खौफनाक खेल खेला. महिला की जान पर बन आई. अब वो अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है.

सीएम साहब के गृह जनपद करनाल में ही दनियालपुर गांव का मामला लोग अभी भूले नहीं. जहां एक महिला और उसके प्रेमी के गले में जूतों की माला डालकर. उनका मुंह काला करके गांव में घुमाया गया था. उस वक्त भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की पुलिस नदारद थी. और अब एक बार फिर उनका शहर करनाल सुर्खियों में आ गया है. पुलिस के मुताबिक पीड़िता करनाल के रेलवे स्टेशन पर एक प्लेटफार्म पर बैठी थी. जहां एक आरोपी आया और उसे खाना खिलाने के बहाने एक औद्योगिक शेड में लेकर गया. वहां पहले से सात अन्य लोग मौजूद थे. इससे पहले कि महिला कुछ समझ पाती, उन वहशी दरिंदों ने उसे दबोच लिया.

आरोपियों ने पीड़ित महिला के साथ बारी-बारी से बलात्कार किया. उन हवस के भूखे भेड़ियों ने देर तक उस महिला के जिस्म को नोंचा. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी महिला को अधमरी हालत में छोड़कर मौके से फरार हो गए. घटना के बाद जब महिला को होश आया तो उसने किसी तरह से 100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी.

पुलिस ने पीड़िता की लोकेशन ट्रेस की और मौके पर जाकर उसे ट्रॉमा सेंटर तक पहुंचाया. लेकिन महिला की हालत बिगड़ने के बाद उसे पीजीआई चंडीगढ़ रैफर कर दिया गया. जहां उसका इलाज चल रहा है.

पुलिस ने आठों आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. लेकिन अभी तक कोई भी आरोपी गिरफ्तार नहीं हुआ है. पुलिस का दावा है कि आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. मामले की तफ्तीश करनाल के महिला पुलिस स्टेशन को सौंप दी गई है.

अब पुलिस घटनास्थल और आसपास के क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है. पुलिस के मुताबिक पीड़िता उत्तर प्रदेश के रहने वाली है. पीडिता ने पुलिस को आपबीती सुनाई. उसने पुलिस को बताया कि कैसे उसके साथ दरिंदगी को अंजाम दिया गया, फिलहाल, पुलिस के हाथ खाली हैं.