Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहरीन के वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा अल खलीफा से रविवार को मुलाकात की और भारत एवं बहरीन के बीच मित्रता मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की. दोनों देशों के नेताओं के बीच बातचीत में व्यापारिक संबंधों और सांस्कृतिक आदान-आदान पर विशेष ध्यान रहा.

प्रधानमंत्री मोदी की बहरीन की यात्रा इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इस देश की यात्रा करने वाले वह पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक ट्वीट किया , 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहरीन के वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा अल खलीफा से मुलाकात की. उन्होंने हमारे संबंधों को और मजबूत करने को लेकर चर्चा की.'प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहरीन के वली अहद सलमान बिन हमाद बिन इसा अल खलीफा से मुलाकात की. उन्होंने खासकर व्यापारिक संबंधों और सांस्कृतिक आदान-प्रदान के संदर्भ में दोनों देशों के बीच मित्रता मजबूत करने पर बातचीत की.'
'द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ़ द रिनेसन्स' से सम्मानित किए गए मोदी
इससे पहले, प्रधानमंत्री को शनिवार को यहां 'द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ़ द रिनेसन्स' से सम्मानित किया गया. उन्होंने बहरीन के शाह हमाद बिन इसा अल खलीफा के साथ भी विभिन्न द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर बातचीत की. तीन देशों फ्रांस, यूएई और बहरीन की यात्रा के तीसरे चरण के तहत मोदी यहां पहुंचे हैं.

पीएम मोदी ने बहरीन पहुंचने से पहले संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा की, जहां उन्होंने अबुधाबी के शहजादे शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से दोनों देशों के बीच व्यापारिक और सांस्कृतिक संबंधों को सुधारने के तरीकों पर शनिवार को चर्चा की.

मोदी को दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका के निभाने लिए संयुक्त अबर अमीरात के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'ऑर्डर ऑफ जायेद' से सम्मानित किया गया. मोदी बहरीन से रविवार को फ्रांस लौटेंगे जहां वह जी7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे