Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) जी-7 शिखर सम्मेलन (G7 Summit) में भाग लेने के लिए रविवार को फ्रांस (France) पहुंच गए हैं. इस दौरान पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) के बीच द्विपक्षीय बातचीत होने की पूरी संभावना जताई जा रही है. इसी के साथ इस बात को लेकर भी चर्चा तेज है कि मुलाकात के दौरान पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच कश्मीर (Jammu and Kashmir) के हालात पर भी चर्चा हो सकती है. गौरतलब है कि सात अमीर मुल्कों के इस जी-7 समूह की बैठक में भारत विशेष आमंत्रित सदस्य है.

जी-7 बैठक पर आज दुनियाभर के देशों की नजर टिकी हुई है. वैश्विक अर्थव्यस्था में सुस्ती और ट्रेड वॉर को लेकर बढ़ती चिंता को देखते हुए सभी जी-7 सदस्य देश चर्चा कर सकते हैं और कुछ अहम निर्णय भी ले सकते हैं. अटलांटिक महासागर तट के सुरम्य शहर बिआरित्ज में होने वाली इस बैठक में पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और डिजिटल बदलाव जैसे ज्वलंत वैश्विक मुद्दों पर भी बात की जाएगी. जी-7 में फ्रांस, जर्मनी, यूके, इटली, अमेरिका, कनाडा और जापान शामिल हैं.

पीएम मोदी तीन देशों फ्रांस, संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और बहरीन (Bahrain) की यात्रा करने के बाद मनामा से यहां पहुंचे हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी फ्रांस पहुंच चुके हैं. फ्रांस पहुंचते ही ट्रंप ने ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने मुलाकात की. ट्रंप ने जॉनसन के साथ अपनी पहली मुलाकात में कहा, वह एक शानदार प्रधानमंत्री होने वाले हैं.

कश्मीर के साथ इन मुद्दों पर ट्रंप से मोदी करेंगे चर्चा
जी-7 शिखर सम्मेलन के इतर मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के कश्मीर में स्थिति, व्यापार मुद्दों और परस्पर हितों के आपसी विषयों पर चर्चा करने की संभावना है. इस सप्ताह वाशिंगटन में ट्रंप ने कहा था कि जब वह सप्ताहांत जी-7 शिखर सम्मेलन में मोदी से मुलाकात करेंगे तो कश्मीर में स्थिति और भारत-पाक तनाव कम करने पर उनसे चर्चा करेंगे. जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा हटाने और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के भारत के फैसले के बाद उसके और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है. भारत के इस फैसले पर पाकिस्तान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. जिसके बाद बार-बार ट्रंप मध्यस्थता की बात कहते रहे हैं. आशा की जा रही है कि पीएम मोदी इस मुद्दे पर भारतीय पक्ष के बारे में उन्हें अच्छे से अवगत करा सकते हैं.