Breaking News

मोदरान, जालोर/ जगमालसिंह राजपुरोहित।

जालोर जिला मुख्यालय से जोधपुर-भीलडी, व भीलडी जोधपुर  डेमू ट्रैन में बहुत भारी भीड़ होने से यात्री परेशान हो रहे है लेकिन रेलवे की लापरवाही से आम यात्री जान जोखिम मे रख कर यात्रा कर रहे है ।
जोधपुर मंडल के समदडी-जालोर-भीलड़ी  रेल मार्ग पर आठ कोच की डेमू ट्रैन चलने के कारण यात्रियो को हमेशा बहुत भारी भीड़ रहती है जिससे यात्रियो को ट्रेन मे  खड़े होकर दरवाजे के पास लटकर मजबूरी में यात्रा करनी पड़ती है ।इस मार्ग पर ट्रेनो का बहुत अभाव होने के कारण हमेशा बहुत भारी भीड़ रहती है ,कई बार यात्री संगठनों ने इस समस्या को जोधपुर मंडल , जयपुर के आला अधिकारियों को अवगत कराया फिर भी अभी तक रेलवे विभाग ने कोई भी समस्या का निदान नही किया है ,यात्री संगठनों का कहना है कि इस मार्ग से बाड़मेर, जालोर जिले के हजारों मरीज अपने इलाज के लिए हमेशा डीसा, पालनपुर, पाटण, अहमदाबाद, गुजरात आते जाते रहते हैं और वर्षभर गुजराती लोग बाबा रामसापीर के दर्शन को रामदेवरा आते जाते रहते हैं 
एवम प्रत्येक महीने के शुक्ल पक्ष में हमेशा यात्री अपनी कुलदेवी के दर्शन को लेकर जालोर, मोदरान, भीनमाल तक आना जाना रहता है जिससे कारण हमेशा भीड़ रहती है ।
ग्रामिणो व विभीन्न संगठनो ने  इस समस्या के निदान के लिए मांग करते हुए  डेमू ट्रैन की जगह पैसेंजर रेक की बारह कोच की ट्रेन अगर जोधपुर भीलडी मार्ग पर चलाई जाए तो यात्रियो की परेशानी दूर हो सकती है लेकिन रेलवे के आला अधिकारी कोई ध्यान नही देने से आम यात्रीओ को जान जोखिम मे डाल कर ट्रेन के दरवाजो पर लटक कर यात्रा करनी पड रही है।