Breaking News

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ी एक संस्था ने सर्वे कर दावा किया है कि विवाहित महिलाएं लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने वाली महिलाओं के मुकाबले ज्यादा खुश हैं. सर्वे मंगलवार को खुद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत जारी करेंगे.आरएसएस के सूत्रों ने बताया कि यह सर्वेक्षण पुणे की संस्था ‘दृष्टि स्त्री अध्ययन प्रबोधन केन्द्र’ ने की है. सर्वेक्षण के निष्कर्ष पर राजस्थान के पुष्कर में इसी महीने आयोजित आरएसएस की अखिल भारतीय समन्वय बैठक में भी चर्चा हुई थी. उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण के मुताबिक विवाहित महिलाओं में खुशी का स्तर बहुत ज्यादा है, जबकि लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने वाली महिलाओं में खुशी का स्तर सबसे कम है.

इस सर्वेक्षण का निष्कर्ष मंगलवार को विदेशी मीडिया के साथ भागवत की बातचीत के बाद जारी किया जाएगा. आरएसएस के प्रचार प्रभारी अरुण कुमार ने शनिवार को जारी आधिकारिक बयान में कहा कि विदेशी मीडिया के साथ भागवत की बातचीत नियमित कार्यक्रम है. उन्होंने कहा कि यह मुलाकात जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से ताल्लुक रखने वालों के साथ बातचीत की आरएसएस की सतत प्रक्रिया का हिस्सा है. कुमार ने कहा कि भागवत अंतरराष्ट्रीय मीडिया को आरएसएस, उसके विचारों और उसके कामकाज के बारे में बताएंगे.