Breaking News

ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग उठने लगी है. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस पार्टी के दफ्तर के बाहर सिंधिया को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने के लिए पोस्टर लगाए गए हैं. इस पोस्टर में राहुल गांधी से अपील की गई है कि सिंधिया को राष्ट्रीय नेतृत्व की जिम्मेदारी दी जाए.

उधर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया. लोकसभा चुनाव में हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए उन्होंने अपना इस्तीफा सौंप दिया. राहुल गांधी के पद छोड़ने के बाद से ही देश भर से पार्टी पदाधिकारियों के विरोध और इस्तीफे का दौर चल रहा है.कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में सभी जिला कांग्रेस कमेटियों को भी भंग कर दिया और अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधी गतिविधियों की शिकायतों को देखने के लिए जून में एक तीन सदस्यीय अनुशासन समिति का गठन किया. लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी बनाए गए सिंधिया ने रविवार को ट्वीट किया, "लोगों के फैसले को स्वीकार करते हुए और जवाबदेही लेते हुए, मैंने राहुल गांधी को एआईसीसी (अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी) के महासचिव के पद से अपना इस्तीफा सौंप दिया है."

सिंधिया ने कहा, "इस जिम्मेदारी को सौंपने और अपनी पार्टी की सेवा करने का मौका देने के लिए मैं राहुल गांधी को धन्यवाद देता हूं." उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से उन्हें 39 सीटों की जिम्मेदारी सौंपी गई थी, जबकि बाकी 41 सीटों की जिम्मेदारी प्रियंका गांधी वाड्रा को दी गई थी.