Breaking News

राजस्थान में कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार अपना पहला बजट बुधवार को विधानसभा में पेश कर रही है. मुख्यमंत्री का विधानसभा में बजट भाषण जारी है. गहलोत ने कहा है ये बजट जनता से पूछकर तैयार किया है. हम विकास के लिए बजट पेश कर रहे हैं. बजट में किसानों के लिए बड़ी घोषणा करते हुए गहलोत ने ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की तर्ज पर ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग का नया फार्मूला दिया है. ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग के लिए 1000 करोड़ के किसान कल्याण कोष बनाने की घोषणा की है.

इससे पहले सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच बजट की कॉपियां विधानसभा पहुंची. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ सीएम के पहुंचने से पहले विधानसभा पहुंच चुके थे. अब केंद्र के आम बजट के चार दिन बाद कुछ ही देर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य बजट पेश  करेंगे. सत्ता में आने के 6 महीने बाद आ रहे इस बजट में चुनावी वादों को पूरा करने की घोषणाएं हो सकती हैं. लोकसभा चुनाव में हार के बाद इस गहलोत सरकार के इस बजट में प्रदेश वासियों के लिए लोक लुभावन घोषणाओं के साथ माली हालत ठीक नहीं होने के चलते कई कठोर कदम भी उठाए जा सकते हैं.