मोदी सरकार के खिलाफ पहला अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी में YSR कांग्रेस, TDP समर्थन को तैयार

Mar 16,2018, 03:03 AM

नई दिल्ली: लोकसभा के साथ ही होने वाले आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस के बीच शह-मात का खेल एक कदम और आगे बड़ गया है. टीडीपी सरकार से बाहर हुई तो अब वाईएसआर कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का दांव चला दिया है. वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य वाईवी सुब्बारेड्डी ने लोकसभा महासचिव को नोटिस देकर 16 मार्च की कार्यसूची में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव शामिल करने का अनुरोध किया. नोटिस पर रेड्डी समेत वाइएसआर कांग्रेस के सभी नौ सांसदों ने हस्ताक्षर किए हैं. लोकसभा की कार्य नियमावली के सेक्शन 198 (बी) के तहत ये नोटिस दिया गया है.

 

इस मुद्दे पर हाल ही में सरकार से अलग हुई सूबे की सत्ताधारी पार्टी टीडीपी भी वाईएसआर कांग्रेस के साथ है. अब सबकी निगाहें कांग्रेस, टीएमसी समेत अन्य दलों के रुख पर है. अगर इस प्रस्ताव को जरूरी 50 सांसदों का साथ मिला तो शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा होगी. अविश्वास प्रस्ताव पर समर्थन जुटाने के लिए वाईएसआर कांग्रेस ने कोशिश शुरू कर दी है. लेकिन इस कवायद में उसे सफलता मिलने की संभावना ना के बराबर है.

 

 

इस क्रम में पार्टी सांसदों ने बृहस्पतिवार को अन्य विपक्षी दलों के नेताओं अपने पार्टी अध्यक्ष जगनमोहन रेड्डी का पत्र सौंपा. इस पत्र में आंध्रप्रदेश के खिलाफ कथित अन्याय पर साथ देने की अपील करते हुए कहा गया है कि अगर विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिला तो पार्टी के सांसद सत्र के अंतिम दिन संसद की सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे.

 

मुश्किल हैं प्रस्ताव  के लिए नंबर जुट पाना

 

अविश्वास प्रस्ताव पेश करने और उसे स्वीकार करने के लिए लोकसभा के कम से कम 50 सदस्यों का हस्ताक्षर जरूरी होता है. खुद वाईएसआर कांग्रेस के पास नौ लोकसभा सदस्य हैं. अगर टीडीपी भी इसमें शामिल हो जाए, तो उसके 16 सदस्यों के साथ कुल संख्या 25 की हो जाएगी. कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, AIADMK जैसे बड़े विपक्षी दलों को अहसास है कि आंध्र की अंदरूनी राजनीति में उलझना उनके लिए फायदेमंद नहीं है. ऐसे में इस प्रस्ताव  का भविष्य अंधकारमय नज़र आता है.

 

NDA से अलग हो सकती है टीडीपी

 

मोदी कैबिनेट से अपने दो मंत्रियों को वापस बुलाने के बाद टीडीपी एनडीए से अलग हो सकती है. टीडीपी ने शुक्रवार को अहम बैठक बुलाई है जिसमें NDA से अलग होने पर फैसला लिया जा सकता है.

 

गौरतलब है कि विवाद इसलिए है क्योंकि टीडीपी पिछले चार सालों से आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जे की मांग कर रही है. यह मांग नए राज्य के निर्माण के साथ ही शुरू हो गई थी लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने विशेष राज्य का दर्जा देने से इनकार कर दिया था

News Next

नई दिल्ली। कांग्रेस का 48वां अधिवेशन आज से शुरुआत होने जा रहा है। हाल ही में राहुल गांधी ने कांग्रेस ने कांग्रेस की कमान संभाली है। राहुल ने कांग्रेस की पुरानी परंपरा से दूर

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और मुख्य सचिव अंशु प्रकाश विवाद के बीच आज से दिल्ली विधानसभा में बजट सत्र शुरू हो रहा है. आज सुबह 11 बजे उपराज्यपाल अनिल

Previous News

जालोर ब्युरो रिपोर्ट  / कृष्णा देवासी पांथेड़ी    सायला निकटवर्ती पांथेड़ी गांव  के सर्वोदय पब्लिक स्कूल मे संस्था निदेशक भागीरथ राम विश्नोई के निर्देशन मे विदाई

आनन्द प्रकाश वर्मा@सांभर लेक (जयपुर)   सांभर उपखण्ड़ के फुलेरा क्षेत्र मे करीब 40 दिनों से फुलेरा से मोखमपुरा जाने वाले स्टेट हाईवे नंबर 57 पे पावर हाउस के पास बन रहे

Thought Of The Day

"साहस मानवीय गुणों में प्रमुख है क्योंकि ….ये वो गुण है जो बाकी सभी गुणों की गारंटी देता है "

विंस्टन चर्चिल


राशिफल
  • Pisces (मीन)

  • Aquarius (कुंभ)

  • Capricorn (मकर)

  • Sagittarius (धनु)

  • Scorpio (वृश्चिक)

  • Libra (तुला)

  • Virgo (कन्या)

  • Leo (सिंह)

  • Cancer (कर्क)

  • Gemini (मिथुन)

  • TAURUS (वृष)

  • ARIES (मेष)

poll

भारत में चुनाव बैलेट पेपर पर होने चाहिए या ईवीएम मशीन पर