30 व 31 मई को बैंको की हड़ताल, ATM सेवाओं पर पड़ सकता है इसका  असर

May 30,2018, 11:05 AM

नई दिल्ली। देश के सभी सरकारी बैंकों के अलावा कुछ निजी व विदेशी बैंकों के तकरीबन 10 लाख कर्मचारियों की दो दिन की हड़ताल शुरू हो चुकी है। इस हड़ताल का आसर आम लोगों पर पड़ेगा। महीने के अंतिम दिन होने की वजह से इस दौरान बैंकों में तनख्वाह जमा होती है लेकिन हड़ताल के चलते इसमें देरी हो सकती है। इस हड़ताल से देश की बैंकिंग व्यवस्था पर काफी बुरा असर पड़ने की आशंका है लेकिन इसका सबसे ज्यादा खामियाजा सरकारी बैंकों को उठाना पड़ सकता है। वहीं इस हड़ताल की वजह से एटीएम सेवाओं पर भी बुरा असर पड़ सकता है। हालांकि, आम लोगों को एटीएम में पैसे की दिक्कत ना हो इसके लिए पहले ही तैयारी कर ली गई थी। सरकारी क्षेत्र के 17 बैंकों को पिछली तिमाही में 60 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का घाटा हो चुका है। ये बैंक आगे का काम चलाने के लिए सरकार से अतिरिक्त वित्तीय मदद मांग रहे हैं। ऐसे में दो दिनों की हड़ताल से इन पर वित्तीय दबाव और बढ़ सकता है। एनपीए वसूली जैसी गतिविधियों पर भी असर होगा। चूंकि हड़ताल महीने के अंतिम दो दिनों (30 व 31 मई) को हो रही है, इन दो दिनों में तमाम सरकारी व गैर सरकारी कार्यालयों के कर्मचारियों का वेतन उनके बैंक खातों में ट्रांसफर किया जाता है। हड़ताल के चलते इसमें देरी हो सकती है। बैंक कर्मचारियों के तमाम संगठनों का शीर्ष संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) और केंद्र सरकार के बीच इस हड़ताल को टालने के लिए बुलाई गई वार्ता असफल साबित हुई है। एसबीआई, बैंक आफ बड़ौदा, केनरा बैंक समेत कई बैंकों ने अपने कर्मचारियों को हड़ताल पर जाने के खिलाफ चेतावनी दी है लेकिन इसका असर होता नहीं दिख रहा है। कर्मचारी संगठनों ने बताया कि पिछले 5 वर्षों से कर्मचारियों के वेतन व भत्तों में बढ़ोतरी नहीं हुई है। कर्मचारी संगठनों और भारतीय बैंक संघ (आईबीए) के बीच इस बारे में दस दौर की बातचीत हुई लेकिन उसका खास नतीजा नहीं निकला। इनका यह भी कहना है कि आइबीए की तरफ से वेतन व भत्तों में महज दो फीसद वृद्धि का प्रस्ताव किया गया था जो मंजूर नहीं है। जानकारी के मुताबिक इस बार हड़ताल का आम ग्राहकों पर होने वाला असर कम होगा। पहले जिस तरह से बैंकिंग हड़ताल से आर्थिक गतिविधियां ठप हो जाती थीं, वैसा नहीं होगा। इसके पीछे वजह यह है कि अब डिजिटल भुगतान की वजह से काफी कुछ बदल गया है। बैंक शाखाओं में काम नहीं होने के बावजूद ग्र्राहक ऑनलाइन भुगतान कर सकेंगे। बैंक इस बात का खास ख्याल रख रहे हैं कि डिजिटल भुगतान व्यवस्था में कोई परेशानी न हो। साथ ही यूपीआइ व अन्य भुगतान एप के जरिये भी लेनदेन में कोई परेशानी नहीं होगी। बैंकों की तरफ से एटीएम में पर्याप्त नकदी डालने की कोशिश की जा रही है ताकि लोगों को नकदी मिलने में भी कोई दिक्कत न हो।

News Next

डॉ.इस्माईल@जयपुर। अखिल भारतीय प्रोफेशनल कांग्रेस जयपुर द्वारा भगवान महावीर कैंसर हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर के सहयोग से देवराज निवास जयपुर में पूर्व प्रधानमंत्री स्व

कैलाशसत्तावन@करौली। टोडाभीम उपखंड के नांगलशेरपुर निवासी भारतीय छात्र संगठन के राष्ट्रीय सचिव विक्रम सिंह मीना ने मंगलवार को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पाइलेट को

Previous News

संजीव कुटल@हरजी@आहोर(जलोर)। आहोर उपखंड के चरली ग्राम पंचायत के अटल सेवा केंद्र में लोक अदालत शिविर का आयोजन हुआ। शिविर में आहोर विधायक शंकरसिंह राजपुरोहित व शिविर प्रभारी

आगरा(उत्तर प्रदेश)। कानून को धता बताते हुए भीड़ द्वारा बेरहमी से पिटाई किए जाने का एक और मामला सामने आया है। इस बार भीड़ द्वारा पिटाई का यह मामला उत्तर प्रदेश के आगरा से आया

Thought Of The Day

"साहस मानवीय गुणों में प्रमुख है क्योंकि ….ये वो गुण है जो बाकी सभी गुणों की गारंटी देता है "

विंस्टन चर्चिल


राशिफल
  • Pisces (मीन)

  • Aquarius (कुंभ)

  • Capricorn (मकर)

  • Sagittarius (धनु)

  • Scorpio (वृश्चिक)

  • Libra (तुला)

  • Virgo (कन्या)

  • Leo (सिंह)

  • Cancer (कर्क)

  • Gemini (मिथुन)

  • TAURUS (वृष)

  • ARIES (मेष)

poll

राजस्थान में किसकी सरकार आनी चाहिए ?