मोदी सरकार का आखिरी भाषण, लाल किले पर जानें पुराने वादों का क्या हुआ?

Aug 14,2018, 13:08 PM

इंडिपेंडेंस डे के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांचवी बार लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करने जा रहे हैं. इससे पहले चार बार इस मौके पर प्रधानमंत्री ने देश के विकास के लिए इस मंच से कई कार्यक्रमों का ऐलान किया. बात चाहे सात दशक पुराने योजना आयोग को बंद कर नीति आयोग गठित करने की हो, सांसदों द्वारा अपने चुनाव क्षेत्र में आदर्श ग्राम स्थापित करना हो या फिर देश के समुचित विकास के लिए टीम इंडिया बनाने की, पीएम मोदी ने इस मंच से कई कार्यक्रमों की शुरुआत की है.

अब जब पीएम मोदी लालकिले से अपना पांचवा और कार्यकाल का आखिरी भाषण देने जा रहे हैं, जानिए पहले चार भाषणों में उनके कौन से वादे और कार्यक्रम हैं जो अब भी पूरे नहीं हो सके हैं

अपने पहले भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री जन-धन योजना का ऐलान करते हुए कहा था कि इस योजना के तहत देश में गरीब जनता का डेबिट कार्ड बनाया जाएगा और साथ ही प्रति परिवार को 1 लाख रुपये का जीवन बीमा दिया जाएगा. इस योजना से एक गरीब परिवार इस जनधन खाते से जरूरत पड़ने पर पैसा निकाल सकता है. इस कार्यक्रम को बीते साल के दौरान आगे बढ़ाया गया है और बड़ी संख्या में जनधन खाते खोले गए हैं लेकिन इस योजना का फायदा उठाने के लिए गरीब परिवार अब भी इंतजार कर रहा है.

पीएम मोदी ने लालकिले से कहा था कि देश की 65 फीसदी जनसंख्या 35 वर्ष आयु से कम की है. इस ताकत से सर्वाधिक फायदा उठाने के लिए केन्द्र सरकार स्किल इंडिया कार्यक्रम के जरिए एक बड़ी स्किल्ड वर्क फोर्स तैयार करने की योजना पर लगी है. इसके साथ ही पीएम ने इस बात पर भी जोर दिया कि इन कार्यक्रमों के जरिए दुनियाभर को वर्क फोर्स देने के लिए देश के युवा को तैयार किया जाना है. लेकिन बीते तीन साल के दौरान इन कार्यक्रमों पर किसी सार्थक पहल का इंतजार है.

देश में कारोबार कोबढ़ावा देने के लिए पीएम मोदी ने अभीतक की अपनी सबसे बड़ी स्कीम मेक इन इंडिया का जिक्र लालकिले से किया. इस स्कीम के तहत देश को पूरी दुनिया के लिए मैन्यूफैक्चरिंगहब बनाना है. इसके चलते केन्द्र सरकार की कोशिश मैन्यूफैक्चरिंग क्षेत्रमें दुनियाभर की कंपनियों से इस शर्त पर करार करने की है जिससे उक्त कंपनी भारत में उत्पाद की मैन्यूफैक्चरिंग करने के लिए तैयार रहे. इस कार्यक्रम से जहां देश के मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर को मजबूत करना है वहीं ब्रांड इंडिया का भी दुनियाभर में विस्तार करना है. इस स्कीम को भी अभी एक बड़ी सफलता का इंतजार है.

केन्द्र सरकार की कमान संभालने के बाद लाल किले की प्राचीर से अपने पहले भाषण में पीएम मोदी ने देश के सभी सांसदों से एक गांव गोद लेने की अपील की थी. एक साल के अंदर सभी सांसदों को इस चुने हुए गांव को विकास का मॉडल बनाते हुए आदर्श ग्राम में बदलना था. मौजूदा समय में यह स्कीम अपने दूसरे और तीसरे चरण में है जहां सांसदों को दूसरे और तीसरे गांव का चयन कर उसे भी आदर्श ग्राम की तर्ज पर विकसित करना था. लेकिन इस स्कीम में अभी तक किसी एक ग्राम को आदर्श ग्राम के तौर पर सामने पेश नहीं किया गया है.

1 जुलाई 2017 से पूरे देश में एक समान टैक्स प्रक्रिया लागू की गई है. केन्द्र सरकार को भरोसा था कि इस कदम से उसके खजाने के साथ-साथ देश के कारोबार को नया आयाम मिलेगा. हालांकि इसे लागू करने के बाद से इसमें जारी खामियों के दूर करने के लिए केन्द्र सरकार और राज्य सरकारें लगातार कोशिश कर रही हैं. ऐसे में संभव है  कि पीएम मोदी अपने लाल किले के भाषण में जीएसटी को लेकर कुछ अहम घोषणाएं करें. गौरतलब है कि चौथे भाषण में पीएम मोदी ने भरोसा दिलाया था कि जीएसटी के क्रांतिकारी बदलाव लाएगा. क्या अब पीएम इस भाषण में उस क्रांतिकारी बदलाव पर कुछ कहेंगे

 

News Next

वाराणसी क्राइम ब्रांच ने मंगलवार को मुठभेड़ के दौरान एक 20 हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उसके कब्जे से 1.30 करोड़ की हेरोइन बरामद की है. बदमाश की पहचान कल्लू

मनीषा दयाल पटना में एक कार्यक्रम आयोजित करती है, और उसकी ख़बर मुजफ्फरपुर के एक स्थानीय अखबार में फोटो समेत छपती है. बसी यही वो बात थी, जिसने पुलिस को सोचने पर मजबूर कर दिया.

Previous News

नई दिल्ली। हाल ही में कानून दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा तथा विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराने की बात दोहराई है। एक देश एक चुनाव की अवधारणा को

26 जनवरी को तिरंगा यात्रा के दौरान भड़की हिंसा को ध्यान में रखते हुए 15 अगस्त को कासगंज जिले में तिरंगा यात्रा निकालने की अनुमति नहीं दी गई है. जिले में चप्पे-चप्पे पर पुलिस

Thought Of The Day

"साहस मानवीय गुणों में प्रमुख है क्योंकि ….ये वो गुण है जो बाकी सभी गुणों की गारंटी देता है "

विंस्टन चर्चिल


राशिफल
  • Pisces (मीन)

  • Aquarius (कुंभ)

  • Capricorn (मकर)

  • Sagittarius (धनु)

  • Scorpio (वृश्चिक)

  • Libra (तुला)

  • Virgo (कन्या)

  • Leo (सिंह)

  • Cancer (कर्क)

  • Gemini (मिथुन)

  • TAURUS (वृष)

  • ARIES (मेष)

poll

राजस्थान में किसकी सरकार आनी चाहिए ?