अटल बिहारी वाजपेयी की हालत नाजुक, उपराष्ट्रपति और शाह पहुंचे, ममता भी जाएंगी

Aug 16,2018, 11:08 AM

दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत नाजुक बनी हुई है. पिछले 24 घंटे में पूर्व प्रधानमंत्री की हालत और बिगड़ गई है. उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है. कल देर शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अटल बिहारी वाजपेयी से मिलने एम्स पहुंचे थे. पीएम ने डॉक्टरों से मिलकर वाजपेयी जी के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की, वो करीब 50 मिनट अस्पताल में रहे. एम्स ने बुधवार रात करीब पौने ग्यारह बजे अटलजी की तबीयत पर मेडिकल बुलेटिन जारी किया था. एम्स के मुताबिक, ''पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पिछले 9 सप्ताह से AIIMS में भर्ती हैं. दुर्भाग्य से पिछले 24 घंटों में उनकी स्थिति और बिगड़ी है. उनकी हालत नाजुक है और वह लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं.''

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने कहा- हम ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि वे जल्दी से स्वस्थ हों और उनका मार्गदर्शन हमें और पूरे देश को मिलता रहे. उनका उत्तर प्रदेश से बेहद खास नाता रहा है. वे पहली बार यहीं से सांसद बनकर संसद पहुंचे थे. उनकी सेहत बेहद नाजुक होने की वजह से हमने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं.

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की अच्छी सेहत की कामना करते हुए भावुक हुए. दिनेश शर्मा ने कहा-  उनकी खराब सेहत की खबर ने मुझे दुखी कर दिया. वो हमेशा मेरे लिए प्रेरणा और मार्गदर्शक रहे.

देश भर से दुआ के लिए उठे हाथ

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत पर देश भर के नेता और बड़ी हस्तियां प्रतिक्रिया दे रहे हैं. आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और मशहूर कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट किया है, ''मन खराब है... अटल बिहारी वाजपेयी मेरे राजनैतिक विचार की उद्दीप्ति के सूत्र! ईश्वर जो तेरे मन हो वो हो.'' इसके आगे कुमार विश्वास ने मशहूर शायर मिर्जा गालिब का एक शेर भी लिखा है, "मौत का एक दिन मुअय्यन है, नींद क्यूं रात भर नहीं आती.''

अटल जी: एक पत्रकार, रजनेता, कवि, लेखक.

अटल बिहारी वाजपेयी की पहचान जितनी राजनेता के तौर पर है उतनी एक कवि के तौर पर भी है. राजनीति में आने से पहले अटल बिहारी वाजपेयी पत्रकार हुआ करते थे. लेकिन कश्मीर में लागू परमिट सिस्टम का विरोध करने के लिए जब डॉ श्य़ामा प्रसाद मुखर्जी कश्मीर गए तब पत्रकार के तौर पर ही अटल बिहारी वाजपेयी साथ थे.

श्यामा प्रसाद मुखर्जी की नजरबंदी में मौत के बाद अटल बिहारी वाजेपयी ने राजनीति में आने का फैसला किया. राजनीति में दाखिल होने के बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा.

News Next

बीकानेर।स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह राजकीय डॉ. करणीसिंह स्टेडियम में आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तथा सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक ने ध्वजारोहण किया।

कृष्णा देवासी@सायला(जालोर)सायला के निकटवर्ती पांथेडी मे राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय पाथडी के नव निर्मित शाला भवन मे 72वा स्वतंत्रता दिवस समारोह को बड़े धूमधाम से

Previous News

हिमांशु गोयल@बुहाना(झुंझुनू)बुहाना में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय एवं चमेली देवी बालिका विद्यालय ने 72 वे स्वतंत्रता दिवस के ऊपर झंडारोहण किया। जिसमें उपखंड

लक्ष्मी नारायण@नादौती(करौली)जिले के नादौती उपखंड के रौंसी ग्राम मे 72 वें स्वतन्त्रता दिवस के पावन अवसर पर GSS अध्यक्ष समय सिंह बैंसला ग्राम सेवा सहकारी समिति रौंसी पर

Thought Of The Day

"साहस मानवीय गुणों में प्रमुख है क्योंकि ….ये वो गुण है जो बाकी सभी गुणों की गारंटी देता है "

विंस्टन चर्चिल


राशिफल
  • Pisces (मीन)

  • Aquarius (कुंभ)

  • Capricorn (मकर)

  • Sagittarius (धनु)

  • Scorpio (वृश्चिक)

  • Libra (तुला)

  • Virgo (कन्या)

  • Leo (सिंह)

  • Cancer (कर्क)

  • Gemini (मिथुन)

  • TAURUS (वृष)

  • ARIES (मेष)

poll

राजस्थान में किसकी सरकार आनी चाहिए ?