26/11 के 10 साल, अब भी बाकी है गुनहगारों को सज़ा मिलना

Nov 27,2018, 14:11 PM

26/11 मुंबई हमलों को दस साल गुज़र चूके है। लेकिन उन गुनहगारों का हिसाब कब होगा ? जिन्होने इस गुनाह को अंजाम दिया। कसाब को तो फांसी पर लटका दिया। लेकिन इस हमले को अंजाम देने वाले बाकी गुनहगारों को कौन सज़ा देगा? इस हमले में कसाब तो एक मोहरा भर था। पर उनका क्या जिन्होंने पूरे 59 घंटे तक पाकिस्तान  में बैठकर मुंबई के सीने को छलनी किया। आपको बता दे की आज भी इस हमले में शामिल कई और गुनहगार ऐसे है जिन्हे अब तक सज़ा नहीं मिली है और बेकौफ़ घूम रहे है। चलिए आपको भी वाकिफ करवाते है इस हमले में शामिल बाकी गुनहगारों से...जिन्हे सज़ा मिलना बाकी है....

हाफ़िज़ सईद- ये 26/11 का वो मास्टरमाइंड है जो पाकिस्तान में आज़ाद घूम रहा है और वहां का प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब देख रहा है। वहां सरकार उसे लेकर बयानबाजी तो करती है, लेकिन उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं करती।

ज़की-उर-रहमान लखवी उर्फ़ चाचा- जिसने  26/11 के दसों आतंकियों को ट्रेनिंग दी थी। उऩ्हें आतंकी बनाया था। 2015 में वो पाकिस्तानी जेल से रिहा होकर बाहर आया और अब फिर से आतंकियों की नई खैप तैयार कर रहा है।

ज़रार शाह - 26/11  हमले के वक्त आतंकियों को कराची में बैठ कर फोन पर निर्देश दे रहा था और वर्तमान में लश्कर-ए-तैय्यबा और आईएसआई के बीच कड़ी का काम कर रहा है।

डेविड कोलमैन हेडली- हमले से पहले मुंबई की रेकी की और आतंकियों को खुफिया जानकारी उपलब्ध कराई। हमलों के बाद अमेरिकी कोर्ट ने उसे 35 साल की सज़ा सुनाई और इस वक्त वो अमेरिकी के जेल में बंद है।

ज़बी-उद्-दीन अंसारी उर्फ़ अबू हमज़ा- उसने आतंकियों को खुफिया जानकारियां दी। भारत में उसके खिलाफ मुकदमा चल रहा है। उसे अपने गुनाहों के लिए उम्र कैद की सज़ा मिली है और वो इस वक्त भारतीय जेल में बंद है।

News Next

राम मंदिर के मुद्दा लोकसभा चुनाव से पहले गर्माता जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट में इस मुद्दे की सुनवाई टलने के बाद से ही कई हिंदू संगठनों ने नाराजगी व्यक्त की है। RSS प्रमुख मोहन

प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस की शादी के फंक्शन 29 नवंबर से शुरू होंगे। 2 दिसंबर को एक्ट्रेस निक संग जोधपुर के उम्मेद भवन में शादी करेंगी। निक के भाई अपनी पार्टनर संग भारत

Previous News

राजस्थान में मेवाड़ के दिग्गज नेता और नाथद्वारा विधानसभा से कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. सीपी जोशी ने राजनैतिक द्वेषता भुलाते हुए सोमवार को बीजेपी के नाथद्वारा के दिवंगत

राजस्थान की राजनीति में ब्राह्मण नेताओं का एक लंबे समय तक दबदबा रहा है। प्रदेश में कभी कांग्रेस की राजनीतिक धुरी ब्राह्मणों के इर्द-गिर्द घूमती थी। कांग्रेस के बाद

Thought Of The Day

"साहस मानवीय गुणों में प्रमुख है क्योंकि ….ये वो गुण है जो बाकी सभी गुणों की गारंटी देता है "

विंस्टन चर्चिल


राशिफल
  • Pisces (मीन)

  • Aquarius (कुंभ)

  • Capricorn (मकर)

  • Sagittarius (धनु)

  • Scorpio (वृश्चिक)

  • Libra (तुला)

  • Virgo (कन्या)

  • Leo (सिंह)

  • Cancer (कर्क)

  • Gemini (मिथुन)

  • TAURUS (वृष)

  • ARIES (मेष)

poll

राजस्थान में किसकी सरकार आनी चाहिए ?