कांग्रेस झूठ को मूलमंत्र बना चुकी, कमजोर करना चाहती है देश को: पीएम मोदी

Dec 16,2018, 15:12 PM

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के मामले में सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट मिलने के बाद रविवार को कांग्रेस पर देश विरोधी ताकतों के साथ खड़े होने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि झूठ को ही अपना मूलमंत्र बना चुकी यह पार्टी किसी भी कीमत पर देश को कमजोर करना चाहती है. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली में करीब 1100 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करने के बाद एक जनसभा में कहा कि आज देश यह देख रहा है कि मोदी पर दाग लगाने में जुटी कांग्रेस उन ताकतों के साथ खड़ी है, जो हमारी सेनाओं को मजबूत नहीं होने देना चाहतीं. ऐसे लोगों की कोशिशों को किन-किन देशों से समर्थन मिल रहा है, यह भी देश देख रहा है. क्या कारण है कि यहां कुछ नेता ऐसी भाषा बोल रहे हैं, जिसपर पाकिस्तान में तालियां बज रही हैं. राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इस प्रकरण की संयुक्त संसदीय समिति से जांच कराने की मांग कर रही कांग्रेस पर प्रहार करते हुए मोदी ने कहा, 'मैं जानता हूं कि वे (कांग्रेस) मोदी पर दाग लगाना चाहते हैं, लेकिन मैं उनसे जानना चाहता हूं कि इसके लिए देश को ताक पर क्यों रख दिया गया है? आज देश के सामने दो पक्ष हैं, एक सत्य, सुरक्षा और सरकार का है, जो हर तरह से कोशिश कर रही है कि हमारी सेना की ताकत बढ़े. दूसरा पक्ष उन ताकतों का है जो किसी भी कीमत पर देश को कमजोर करना चाहती हैं.' मोदी ने रामचरित मानस की एक चौपाई का जिक्र करते हुए कांग्रेस पर प्रहार किया और कहा कि कुछ लोग झूठ ही स्वीकार करते हैं, झूठ ही देते हैं, झूठ ही भोजन करते हैं और झूठ ही चबाते रहते हैं. कुछ लोगों ने इन्हीं पंक्तियों को अपने जीवन का मूलमंत्र बना लिया है. ऐसे लोगों को देश के रक्षा मंत्रालय, वायुसेना और फ्रांस की सरकार के बाद अब देश की सर्वोच्च अदालत भी झूठी लगने लगी है. कांग्रेस सरकारों का इतिहास और सेनाओं के प्रति उसका रवैया कैसा रहा है, इसके लिए यह देश उसे कभी माफ नहीं करेगा. कांग्रेस के काले कारनामे इतने ज्यादा हैं कि उनकी बात करें तो हफ्तों गुजर जाएंगे. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर अपनी अगुवाई वाली संप्रग-1 तथा संप्रग-2 सरकारों के कार्यकाल में वायुसेना को मजबूत नहीं होने देने का आरोप लगाते हुए पूछा कि आखिर किसके दबाव में ऐसा किया गया. रक्षा सौदों के मामले में कांग्रेस का इतिहास बोफोर्स घोटाले वाले क्वात्रोची 'मामा' का रहा है. कांग्रेस के समय में हुए हेलीकॉप्टर घोटाले में एक और 'अंकल' मिशेल को पकड़कर भारत लाया गया है. मोदी ने कहा कि आजादी के बाद से ही कांग्रेस का यह तरीका रहा है कि उसके हर रक्षा सौदे में कोई ना कोई विदेशी अंकल, मामा, चाचा, भतीजा निकल ही आता है. जब पारदर्शिता और ईमानदारी से सौदे होते हैं तो कांग्रेस बौखला जाती है और एक रणनीति के तहत सेना पर ही धावा बोल देती है. उन्होंने कहा, 'मैं पूछना चाहता हूं कि क्या कांग्रेस इसलिए भड़की है कि हमारी सरकार जो रक्षा सौदे कर रही है उसमें कोई क्वात्रोची मामा या मिशेल अंकल शामिल नहीं हैं. क्या इसीलिये वह अब न्यायपालिका को कठघरे में खड़ा करने में लग गई है.' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब देश की सुरक्षा की बात हो, सेना की जरूरतों की बात हो, सैनिकों के सम्मान की बात हो तो केन्द्र की भाजपानीत सरकार सिर्फ राष्ट्रहित, देशहित और जनहित का ही ध्यान रखती है. यही हमारी परवरिश और संस्कार हैं. हमारी सरकार देश के हर सैनिक और उसके परिवार के प्रति जवाबदेह है, किसी एक परिवार के प्रति नहीं. अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि साल 2009 में भारत की सेना ने सरकार से एक लाख 86 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट की मांग की थी. मगर 2014 तक सेना के लिए जैकेट नहीं खरीदी गईं. केन्द्र में हमारी सरकार बनने के बाद 2016 में हमने सेना के लिए 50 हजार बुलेट प्रूफ जैकेट खरीदकर दीं. इस साल अप्रैल में पूरी एक लाख 86 हजार जैकेट का ऑर्डर दिया जा चुका है. इन्हें भारत की ही एक फैक्ट्री बना रही है. उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के बाद भी अगर केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनती है तो तेजस विमान हमेशा के लिए डिब्बे में बंद कर दिया जाता. भाजपा सरकार ने 83 नए तेजस विमान खरीदने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है. इसके अलावा उसका निर्माण करने वाले एचएएल की क्षमता दोगुनी करने के लिए 1400 करोड़ रुपये की मंजूरी भी दी गयी है. प्रधानमंत्री ने किसानों के मसलों को लेकर भी कांग्रेस पर जमकर प्रहार किया. उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के पास क्या जवाब है कि उसने अपने राज में स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट क्यों नहीं लागू की? आखिर किसका दबाव था? क्यों उसने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) जैसे अहम विषय को जमीन के भीतर ही गाड़ दिया था? इसका जवाब कांग्रेस कभी नहीं देगी और ना ही उसका बनाया इकोसिस्टम कभी उससे पूछेगा.' उन्होंने कहा कि किसानों को कांग्रेस की धोखाधड़ी कभी नहीं भूलनी चाहिए. केन्द्र की भाजपा सरकार ने स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को लागू किया. एमएसपी को लागू किया. कांग्रेस का इकोसिस्टम आपको कभी नहीं बताएगा कि सिर्फ इस एक फैसले से किसानों को 60 हजार करोड़ रुपये का फायदा मिलेगा. मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि आखिर किस दबाव में उसने यूरिया की शत प्रतिशत नीम कोटिंग नहीं की थी? मोदी ने कहा कि कांग्रेस बीते कुछ समय से कर्जमाफी को लेकर भी बड़ी-बड़ी बातें कर रही है लेकिन यह भी झूठ और धोखा है. कर्नाटक में कांग्रेस ने सरकार बनने के 10 दिन के अंदर कर्ज माफी की बात कही थी लेकिन आज छह महीने बाद भी यह वादा पूरा नहीं हुआ है. कांग्रेस ने वर्ष 2008 में भी किसान कर्जमाफी का वादा किया था मगर छह लाख करोड़ रुपये में से सिर्फ 60 हजार करोड़ का ही कर्ज माफ किया गया. प्रधानमंत्री ने रायबरेली की मॉडर्न कोच फैक्ट्री का जिक्र करते हुए कहा कि यह फैक्ट्री पूर्ववर्ती सरकारों के शासन में देश के संसाधनों के साथ हुए अन्याय की गवाही देती है. वर्ष 2010 में बनकर तैयार हुई इस फैक्ट्री को 2014 तक पूरी क्षमता से नहीं चलाया गया. साल 2014 में जहां इसकी मात्र तीन प्रतिशत मशीनें ही चल रही थीं, वहीं अब केन्द्र की भाजपा सरकार के प्रयास से सभी मशीनें पूरी क्षमता से काम कर रही हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि नयी और आधुनिक मशीनों को लगाने का काम भी तेजी से हो रहा है. इसी का नतीजा है कि पिछले वर्ष इस फैक्ट्री से 711 नये डिब्बे बनकर निकले. अगले दो-तीन वर्ष में इसकी सालाना उत्पादन क्षमता 3000 तक पहुंच जाएगी. हमारा प्रयास इसे 5000 कोच प्रतिवर्ष तक ले जाने का है. मोदी ने कहा कि इस फैक्ट्री के लिए अब जो काम हो रहा है, वह इसे भारत की ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे बड़ी रेल कोच फैक्ट्री बना देगा. यहां देश भर की मेट्रो रेलगाड़ियों और सेमी हाईस्पीड ट्रेनों के डिब्बे भी बनेंगे. इससे क्षेत्र के हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि अब रेल मंत्रालय और उत्तर प्रदेश सरकार मिलकर यहां एक रेल इंडस्ट्रियल पार्क बनाने जा रहे हैं। इससे रेल फैक्ट्री को सामान की सप्लाई होगी, इसका सीधा फायदा यहां के स्थानीय कारोबारियों और कुटीर, लघु तथा मध्यम उद्योगों को मिलेगा. मोदी ने कहा कि जब पहले की सरकार ने यहां रेल कोच फैक्ट्री का निर्माण किया तब यह भी तय हुआ था कि यहां पांच हजार कर्मचारियों की नियुक्ति की जाएगी. लेकिन स्वीकृति इसके आधे पदों को ही दी गयी. इतना ही नहीं, 2014 में हमारी सरकार ने आने के बाद देखा कि यहां की फैक्ट्री में एक भी नयी नियुक्ति नहीं हुई थी. आज दो हजार नए कर्मियों को हमारी सरकार ने नियुक्त कर दिया है. इससे पहले, प्रधानमंत्री ने रायबरेली स्थित मॉडर्न कोच फैक्ट्री का निरीक्षण किया. साथ ही उन्होंने 1,051 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया. मोदी ने एम्स में मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल भवन और प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 500 आवासों का शिलान्यास किया. वहीं कानपुर बाईपास पुल, एम्स में टाइप-2 के तीन ब्लॉक तथा टाइप 3, 4, 5 के एक-एक ब्लॉक के आवास तथा छात्रावास का लोकार्पण किया. इसके अलावा उन्होंने फैक्ट्री में बने 900वें हमसफर रेल कोच को भी लोकार्पित किया. इस मौके पर रेल मंत्री पीयूष गोयल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी जनसभा को सम्बोधित किया.

News Next

जम्मू-कश्मीर के पुलमावा में आंतकियों से मुकाबला करते शहीद हुए प्रदेश के लाडले जांबाज किशन सिंह की पार्थिव देह रविवार को बीकानेर लाई जाएगी. वहां से सोमवार को पार्थिव देह को

डॉक्टर इस्माईल/जयपुर    जयपुर  । यादगार में डीसीपी यातायात लवली कटियार ने    एक प्रेसवार्ता में सभी मीडिया संवाददाताओं से मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री शपथ ग्रहण

Previous News

छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री के नाम का एलान अखिरकार कर दिया गया. भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री बनाए गए हैं. काफी मंथन के बाद कांग्रेस के आलाकमान ने इनके नाम पर मुहर

राष्ट्रपति,...

Dec 16,2018, 14:12 PM

नई दिल्ली। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को विजय दिवस के मौके पर 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद हुए भारतीय जवानों को याद किया।

Thought Of The Day

"साहस मानवीय गुणों में प्रमुख है क्योंकि ….ये वो गुण है जो बाकी सभी गुणों की गारंटी देता है "

विंस्टन चर्चिल


राशिफल
  • Pisces (मीन)

  • Aquarius (कुंभ)

  • Capricorn (मकर)

  • Sagittarius (धनु)

  • Scorpio (वृश्चिक)

  • Libra (तुला)

  • Virgo (कन्या)

  • Leo (सिंह)

  • Cancer (कर्क)

  • Gemini (मिथुन)

  • TAURUS (वृष)

  • ARIES (मेष)

poll

राजस्थान में किसकी सरकार आनी चाहिए ?