कोटा. छीपाबड़ोद के हरनावदाशाहजी कस्बे में 2 पूर्व बोरखेड़ी रोड पर स्थित मनोज रावल के घर में आग लगने से घर समेत घर में रखा गृहस्ती का सामान जलकर राख हो गया. जिसे लेकर गरीब परिवार के सामने जीवन यापन को लेकर समस्या उत्पन्न हो गई. उक्त घटना की खबर को डीपीके न्यूज़ द्वारा प्रमुखता से दिखाया गया. जिस पर डीपीके न्यूज़ सोशल मिडिया पर फोलो करने वाले फ्रांस के जितेंद्र शर्मा ने भामाशाह के रूप में गरीब परिवार की मदद के लिए आगे आये. और डीपीके चेनल हेड से सम्पर्क कर चेनल के माध्यम से सहायता राशी पीड़ित परिवार को पहुचाई गई.

मनोज रावल द्वारा डीपीके न्यूज़ चैनल और बांरा जिला प्रभारी प्रदीप गौतम रिपोर्टर राजेश मिश्रा के साथ ही भामाशाह जितेंद्र शर्मा का भी आभार जताया. और कहा की विदेश में रहते हुए भी सहयोग की भावना के साथ साथ भारतीय संस्कारो की झलक देखने को मिली हैं. ऐसे भामाशाह को हमारा परिवार हमेशा याद रखेगा हम सभी परिवार के सदस्य हमेशा भामाशाह जितेंद्र शर्मा और उनके परिवार के आभारी रहेंगे.

7 वर्षो से रह रहें हैं फ्रांस:
जानकारी के अनुसार राजस्थान मूल के दौसा निवासी जितेंद्र शर्मा पिछले 7 वर्षो से फ्रांस में रह रहे हैं. जितेंद्र शर्मा ने फ़ोन पर बताया कि मैं डीपीके न्यूज को फॉलो करता हूं. और जैसे ही मैंने इस घटना को न्यूज़ पर देखा तो मुझे बहुत दुख हुआ और मैंने गरीब परिवार की मदद करने के लिए डीपीके न्यूज हेड को संपर्क किया मेरी और से दी गई सहायता राशी पीड़ित परिवार को मिल गई हैं. इसके लिए में डीपीके न्यूज़ परिवार का धन्यवाद करता हु.

राशी पीड़ित परिवार को सौंपी:
फ्रांस के रहने वाले भामाशाह जितेंद्र शर्मा द्वारा 12000 रूपये की राशी डीपीके न्यूज बांरा जिला प्रभारी प्रदीप गौतम के माध्यम से हरनावदा शाहजी संवाददाता राजेश मिश्रा को भेजी गई जंहा थाना हरनावदा शाहजी सहायक उप निरीक्षक सूरजमल और संवाददाता राजेश मिश्रा द्वारा पुलिस स्टाफ की मोजुदगी में पीड़ित परिवार को सौंपी गई सहयोग की राशी पाकर पीड़ित परिवार की आँखों में आंसू छलक उठे.