जयपुर. राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (RBSE) कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए परिणाम तैयार करने के मानदंडों को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में लगी हुई है. कोविड -19 स्थिति के कारण परीक्षा रद्द कर दी गई थी. कथित तौर पर, बोर्ड ने स्कूलों को कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्रों के आंतरिक मूल्यांकन के अंक 21 जून तक जमा करने को कहा है. कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए 21 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था. राजस्थान सरकार ने अभी तक कक्षा 10, 12 के परिणाम तैयार करने के लिए एक समिति का गठन नहीं किया है.

इस संबंध में आरबीएसई ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र भेजा है. बोर्ड ने अधिकारियों को याद दिलाया है. कि मौजूदा महामारी की स्थिति को देखते हुए कक्षा 10, 12 की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करना पड़ा है. इसमें कहा गया है कि छात्रों को सीधे प्रमोट करना होगा जिसके लिए ‘आंतरिक अंक’ जरूरी हैं. स्कूलों को छात्रों के रोल नंबर के आगे अंक भरने को कहा गया है.

राजस्थान में कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में प्रत्येक विषय के अधिकतम अंक 100 हैं, जिसमें थ्योरी में 80 अंक और आंतरिक मूल्यांकन में 20 अंक शामिल हैं. महामारी के कारण अधिकांश स्कूल हाफ ईयरली परीक्षा भी आयोजित नहीं कर सके और अब छात्रों को उनके गृहकार्य के आधार पर आंतरिक अंक दिए जाएंगे.

आरबीएसई अभी भी मूल्यांकन मानदंडों को अंतिम रूप दे रहा है और बोर्ड द्वारा कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है. आरबीएसई ने 2 जून, 2021 को राजस्थान कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया था.