जयपुर. प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Corona cases in Rajasthan) की रफ्तार पहले के मुकाबले धीमी है. जहां प्रदेश में पहले एक दिन में 10 हजार से अधिक कोरोना के नए केस सामने आ रहे थे, तो वहीं अब यह संख्या एक हजार के आसपास ही है. ऐसे में सरकार ने भी राहत की सांस ली है. और उम्मीद जताई जा रही है कि सरकार जल्द ही अनलॉक-3 की गाइडलाइन जारी कर धार्मिक स्थल खोलने की अनुमति दे सकती है.

कोविड प्रोटोकॉल के तहत खुलेंगे सिनेमा घर:
गृह विभाग ग्रुप-9 द्वारा जारी नई गाइड लाइन के अनुसार कुछ शर्तों के साथ धार्मिक स्थलों को श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा. ​सिनेमाघरों और मल्टीप्लेक्स को भी आधे दर्शक क्षमता के साथ खोलने की अनुमति दी जा सकती है.

प्रदेशवासियों को अब और रियायत देने की तैयारी:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दो दिन पहले वीसी के माध्यम से विभिन वर्गों के साथ जुड़े थे, जिसमें उन्होंने अनलॉक से संबंधित सुझाव मांगे थे. मुख्यमंत्री गहलोत अब जल्द ही कैबिनेट और मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाकर लॉकडाउन में छूट पर सुझाव लेंगे और नई गाइडलाइन जारी करेगें. माना जा रहा है कि बुधवार या गुरुवार को कैबिनेट बैठक बुलाई जा सकती है नई संशोधित गाइडलाइन में सरकार प्रदेशवासियों को अब और रियायत देने जा रही है. हालांकि यह सभी रियायत है कोविड प्रोटोकॉल की शर्तों के साथ दी जाएगी.

धार्मिक स्थलों को श्रद्धालुओं के लिए खोलने की तैयारी:
पिछले ढाई महीनों से बंद धार्मिक स्थल को खोलने की भी तैयारी सरकार ने कर ली है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को धर्म गुरुओं के साथ हुई बैठक में भी धार्मिक स्थल खोलने के संकेत दिए थे. लिहाजा सरकार की नई संशोधित गाइडलाइन में धार्मिक स्थलों को शर्तों के साथ खोलने की तैयारी है. नई गाइडलाइन के तहत सरकार अगर मंदिर खोलने का फैसला लेती है तो धार्मिक स्थलों में एक साथ 5 से ज्यादा लोगों को पूजा अर्चना की अनुमति नहीं होगी, साथ ही धार्मिक स्थलों पर भी कोविड प्रोटोकॉल की पालना करनी होगी.

नई गाइडलाइन की खास बातें:

-शर्तो के साथ धार्मिक केंद्रों और सिनेमाघर मल्टीप्लेक्स खोलने की अनुमति

-पहले फेज में आधे या इससे कम दर्शकों के साथ अनुमति सम्भव

-बाजारों का समय 6 बजे तक बढ़ाया जा सकता है

-सरकारी सरकारी दफ्तरों में 100 फ़ीसदी स्टॉफ बुलाना तय

-अभी आधे कर्मचारियों के साथ 4 बजे तक ही खुलते हैं

-अब पूरे कर्मचारियों के साथ सभी सरकारी दफ्तरों में शाम 6 बजे तक काम करने की छूट

-शादी समारोह में पाबंदियां बरकरार रहने के आसार

-ऐसी संभावना है कि रविवार को वीकेंड कर्फ्यू वाले दिन सुबह 6 से दोपहर 12 बजे तक बाजार खुले रह सकते हैं.